What is Coronavirus Symptoms जाने हिन्‍दी में

What is Coronavirus Symptoms

What is Coronavirus  अभी हाल ही मे चीन के बुहान शहर में एक बिमारीबहुत ही तेजी से फैली जिसको नोवेल कोरोना वायरस का नाम दिया गया । कहा जा रहा है कि इस वारस का प्रभाग मनुष्‍यो पर किसी ज्‍यादा जानवर के संपर्क में रहने या मांस बाजार से जोडा गया है

यह भी सम्‍भावना लग रहा है कि चमगादड जैसे जीव से भी इसका उत्‍पति माना जा रहा है। यह वायरस मनुष्‍यो तथा जानवरो के सांस सबंधी बीमारियां पैदा करते है। ये वासरस साधारण इंफ्लूएंजा वायरस से भिन्‍न होते हैं।

What is Coronavirus
What is Coronavirus

आप का पता है कि वायरस की बनावट उसके मध्‍य भाग  तथा उसकी उपरी भाग होती है वायरस के मध्‍य भाग में जेनेटिक मैटेरियल भरा होता है तथा उपरी भाग उसका बाहरी कवच होता है चूंकि करोना वायरस का उपरी खोल मुकुट की तरह दिखता है जिसे हम क्राउन कहते है जिसको लैटिन भाषा में कोरोना कहते है।

ये वारस अतीत में गभीर बिमारिया भी पैदा करती रहती है । चीन के बुहान शहर में फैले इस बीमार से जहा चीन में संक्रमण बहुत तेजी से फैल रहा है वही चीन से आने वाले विभिन्‍न देशो के आगनतुओ से वहा उस देश मे भी फैलने की आशंका  हो रही है।

इस बीमारी का अभी तक कोई उपचार  नही है । चीन में अभी हाल ही में फैले सन 2003 में सार्स (सीवियर एक्‍टूट रेस्‍पाइरेट्री) नामक वारस से बडी संख्‍या में लोगों की मौत हुई थी और मर्स (मिडिल ईस्‍टर्न रेस्‍पाइरेट्री सिंड्रोम) नामक वायरस ने कई देशो में बडी संख्‍या में लोगों की मौत हुई । कोरोना वायरस के संक्रमित रोगियो के लिए अभी तक इसका कोई विशिष्‍ट इलाज नहीं है। इसमे संक्रमित व्‍यक्ति का इलाज उसके शरीर में फैले लक्षणों के आधार पर किया जाता है ।

इसे भी पढे 

CTET Apply online july 2020 आवेदन कैसे करे 

Coronavirus  के लक्षण

अगर कोई व्‍यक्ति इस वायरस से संक्रमित होता है तो उसे बहुत तेज बुखार आता है । सूखी खासी भी आती है तथा सांस लेने में तकलीफ महसूस होती है तथा नो‍मोनिया की भी शिकायत आती है । शरीर में दर्द भी रहता है तथा पेट खराब या पतला दस्‍त भी हो सकता है।

वायरस के फैलने के कारण

जब कोई व्‍यक्ति इस वासरस से संक्रमित हो जाता है तो उसके खासने या छीकने से संपर्क में आने से व्‍यक्ति में फैल सकता है । व्‍यक्ति के कच्‍चा मांस खाने से भी यह फैलने का एक कारण बन सकता है क्‍योकि यह कहा जा रहा है कि जानवरो के साथ जयादा सर्पक रखने वालो को भी इसके फैलने की संभावनाए लग रही है । संक्रमित एरिया में यात्रा करने के कारण भी फैल सकता है ।

जाँच 

संक्रमण से ग्रस्‍त कियी भी व्‍यक्ति को डॉक्‍टर से सम्‍पर्क करना चाहिए तथा बीमारी का पता लगाने के लिए गला, कान,तथा फैफडो के सैंपल जाँच सरकार द्वारा निर्धारित एनवीआइ्र (नेशनल वाइरोलॉजी इंस्‍टीटृयूट) प्रयोगशाला पुणे में भेजा जाता है।

बचाव

प्रभावित क्षेत्र से  आने वाले किसी भी व्‍यक्ति पर यदि इस प्रकार की कोई लक्षण जैस खासी या बुखार से पीडित हो तो उसे वहा के डॉक्‍टरो की सलाह पर इलाइ के लिए उसका जाँच सैंपल लेकर सरकार द्वारा निर्धारित एनवीआइ्र (नेशनल वाइरोलॉजी इंस्‍टीटृयूट) प्रयोगशाला पुणे में भेजा जाय । रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही उसे उसके गंत्‍वय को जाने दिया जाये।  कच्‍चा मांस खाने से बचे । भीड भाड वाले स्‍थानो पर जाने से बचे तथा प्रभावित क्षेत्रो का दौरा न करे ।

कोरोना वायरस का प्रभाव

कोरोना वायरस का प्रभाव पूरी दूनिया पर देखा जा सकता है जहा यह बिमारी फैली है वहा तो लोग संक्रमणित हो रहे है लेकिन अन्‍य देशो में इसे फैलने की सम्‍भावन पर वहा के देश इसकी रोकथाम के लिए सरकारे एलर्ट हो गयी है । जहा कुछ देशो ने अपनी सभी हवाई जहाज उडाने रोक लगा दी है वही बहुत सारे देश अपने नागरिको से सम्‍पर्क  बनाये हुये है ।

बहुत सारे देश अपने नागरिको को प्रभावित क्षेत्रो का दौरा करने लिए सभी उडाने रद्द की दी है तथा जिन नागरिको को लाया जा रहा है उसे जांच कर एयरपोर्ट पर जांच रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही उसे घर जाने दिया जा रहा है। इस  वायरस के प्रभाव से चाइना देश की अर्थव्‍यवस्‍था पर भारी प्रभाव पडना शुरू हो गया है ।

पूरे दुनिया के देशो ने अपनी व्‍यापारिक यात्रा चीन से रद्द कर लिये है । इससे चाइना की अथव्‍यवस्‍था पर इसका काफी गहरा प्रभाव देखने को मिलने वाला है। इससे चीन जैसे देश के आयाता-नियार्त व्‍यापारिक गतिविधियों पर प्रभाव पड रहा है । चाइना में इस वायरस से प्रभावित की संख्‍या बहुत अधिक होती जा रही है साथ ही साथ इस वायरस के प्रकोप से सौकडों ने अपनी जाने गवां चूके है। इस वायरस का प्रभाव कुछ देशो में इसके लक्षण मिलने शुरू हो चूंके है ।

One thought on “What is Coronavirus Symptoms जाने हिन्‍दी में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *